नाइट्रोजन की खोज किसने की ?

नाइट्रोजन गैस का नाम तो आपने सुना होगा, जिसकी मात्रा वातावरण की सभी गैसों में सबसे अधिक है, यह रंगहीन, गंधहीन और स्वादहीन गैस है, रासायनिक दृष्टि से नाइट्रोजन एक अक्रिय तत्व है। यह सामान्य ताप पर अन्य धातुओं के साथ न तो जलता है और न ही यौगिक बनाता है। उच्च तापमान पर, यह नाइट्राइड यौगिक बनाने के लिए लिथियम, मैग्नीशियम, कैल्शियम, बोरॉन इत्यादि जैसे कई तत्वों के साथ प्रतिक्रिया करता है। 

नाइट्रोजन की खोज किसने की ?
 नाइट्रोजन की खोज किसने की ?

नाइट्रोजन गैस वायुमण्डल में आयतन के अनुसार नाइट्रोजन ७८.५ प्रतिशत मात्रा में मौजूद है, रासायनिक अभिक्रिया या भौतिक साधनों से ऑक्सीजन को अलग करके इसकी नाइट्रोजन गैस भी वातावरण से तैयार की जा सकती है, इसका क्वथनांक ऑक्सीजन से कम होता है नाइट्रोजन का रासायनिक सूत्र N होता है। नाइट्रोजन यह एक अक्रिय गैस है जो अपने आप कोई क्रिया नहीं करती है।

     नाइट्रोजन की खोज किसने की ?

    नाइट्रोजन की खोज 1772 में स्कॉटिश वैज्ञानिक डेनियल रदरफोर्ड ने की थी। डेनियल ने शीले के साथ मिलकर पहली बार 1772 ई. में नाइट्रोजन को मुक्त रूप में पाया। उसी वर्ष स्कील ने स्थापित किया कि हवा में मुख्य रूप से दो गैसें मौजूद हैं, एक सक्रिय और दूसरी निष्क्रिय। है। तब प्रसिद्ध फ्रांसीसी वैज्ञानिक लवाज़े ने ऑक्सीजन से नाइट्रोजन गैस को अलग किया और नाइट्रोजन को 'एज़ोट' नाम दिया। 1790 में, Schaptal ने इसे नाइट्रोजन नाम दिया।

    नाइट्रोजन के भौतिक गुण

    • नाइट्रोजन एक रंगहीन, गंधहीन और स्वादहीन गैस है।
    • इसका अणु दो परमाणुओं से मिलकर बना है। इसका चिन्ह एन.
    • नाइट्रोजन का परमाणु क्रमांक 7 होता है
    • परमाणु भार 14.007, गलनांक - 210°C, क्वथनांक - 195.8°C, घनत्व 1.25 ग्राम प्रति लीटर।
    • इसका क्रांतिक तापमान - 147°C, 0°C। तथा सामान्य दाब पर जल में विलेयता 23.5 घन सेमी होती है। प्रति लीटर।
    • नाइट्रोजन एक अक्रिय गैस है जो कमरे के तापमान पर अन्य धातुओं के साथ न तो जलती है और न ही यौगिक बनाती है।
    • यह गस सल्फर, फास्फोरस और कई तत्वों और यौगिकों के साथ प्रतिक्रिया करती है।
    • नाइट्रोजन को वातावरण से भी तैयार किया जा सकता है, जिसमें ऑक्सीजन को रासायनिक प्रतिक्रिया या भौतिक साधनों से अलग करना पड़ता है।
    • अमोनियम नाइट्राइट पर ऊष्मा के प्रभाव से प्रयोगशाला में नाइट्रोजन मुक्त होती है। अमोनियम नाइट्राइट एक तैरता हुआ पदार्थ है। इस कारण से, इस उद्देश्य के लिए अमोनियम क्लोराइड और सोडियम नाइट्राइट के मिश्रित घोल का उपयोग किया जाता है।
    • इसके उबलने का समय ऑक्सीजन की तुलना में कम होता है। इससे इसकी ऑक्सीजन पहले वाष्पित हो जाती है और नाइट्रोजन बाद में अवशिष्ट द्रव में रह जाती है।

    नाइट्रोजन का उपयोग

    • आइसक्रीम बनाने के लिए नाइट्रोजन गैस का उपयोग किया जाता है।
    • बिजली के बल्बों में नाइट्रोजन भरने से उनकी आयु बढ़ जाती है।
    • टायरों में नाइट्रोजन भरने से ये फटते नहीं हैं।
    • निष्क्रिय वातावरण बनाने के लिए नाइट्रोजन का उपयोग किया जाता है।
    • नाइट्रोजन के कई यौगिक विस्फोटक होते हैं जैसे ट्रिनिट्रोग्लिसरीन, ट्रिनिट्रोटोल्यूइन आदि।

    इन्हें भी पढ़ें :-

    Conclusion :-

    इस पोस्ट में नाइट्रोजन की खोज किसने की, नाइट्रोजन का सूत्र, नाइट्रोजन का उपयोग, नाइट्रोजन क्या है, नाइट्रोजन गैस कौन करता है, नाइट्रोजन स्थिरीकरण के बारे में बताया गया है, यदि आपके कोई अन्य प्रश्न या सुझाव हैं, तो अवश्य पूछें नीचे टिप्पणी कर रहा है। और इस पोस्ट को ज्यादा से ज्यादा शेयर करें ताकि अन्य लोग भी इस जानकारी को जान सकें।

    Post a Comment

    Please comment

    Previous Post Next Post