म्युचुअल फंड क्या है?

टीवी पर आपने म्युचुअल फंड का विज्ञापन तो देखा ही होगा, आज हम इसी म्युचुअल फंड के बारे में आपको जानकारी देने वाले हैं। यदि आपके पास कुछ बचत राशि है जिसका प्रयोग आप निवेश के रूप में करना चाहते हैं तो प्रायः भारत में लोग उस पैसे को बैंक में एफडी (FD) के रूप में जमा करा देते हैं ताकि उन्हें एक निश्चित समय अवधि में निश्चित ब्याज मिलता रहे और कोई और उनकी बचत राशि का सही उपयोग भी होता रहे। इसी प्रक्रिया को हम निवेश कहते हैं। 

म्युचुअल फंड क्या है?
म्युचुअल फंड क्या है?

हालांकि निवेश के और भी कई दूसरे रास्ते हैं जैसे कि आप उसी पैसे को प्रॉपर्टी खरीदने में लगा सकते हैं, कुछ दिन बाद जब उस प्रॉपर्टी का रेट बढ़ेगा तो इसका फायदा आपको भी होगा। इसी तरह आप इस पैसे को स्टॉक मार्केट मे भी लगा सकते हैं जहाँ रिस्क अधिक होता है। या फिर प्रोविडेंट फंड खरीद सकते हैं। कहने का तात्पर्य यह है कि अपनी बचत राशि को निवेश करने के बहुत सारे विकल्प उपलब्ध हैं इन्हीं विकल्पों में से एक महत्वपूर्ण विकल्प है- म्युचुअल फंड।

    म्यूचुअल फंड क्या है?

    म्युचुअल फंड को एक उदाहरण के द्वारा आसानी से समझा जा सकता है, मान लीजिए आप दिल्ली से अपनी कार में मुंबई जाना चाहते हैं..  तो पहला तरीका यह होगा कि आप अपनी कार निकालें और खुद ही ड्राइव करते हुए दिल्ली से मुंबई चले जाएं। दूसरा तरीका यह हो सकता है कि कार चलाने के लिए आप एक ड्राइवर रख लें, इस प्रकार आप आराम से पीछे बैठकर अपनी मंजिल को प्राप्त कर लेंगे। अब मान लीजिए कि 50 लोगों को एक साथ मुंबई जाना है, इस स्थिति मे आप एक बस किराये पर ले सकते हैं जिसमें एक एक्सपर्ट ड्राइवर होगा जो आप सबको बड़ी आसानी से अपने गंतव्य तक पहुँच देगा।   ठीक इसी प्रकार 'म्युचुअल फंड' भी काम करता है।

    यदि आप स्वयं पैसा इन्वेस्ट करना चाहते हैं तो आप अपना पैसा स्टॉक मार्केट में इन्वेस्ट कर सकते हैं लेकिन यदि आपकेपास समय नहीं है या आप फिर आप इस झंझट से बचकर ये काम आसानी से करना चाहते हैं तो म्युचुअल फंड में पैसा निवेश करके आप उतना ही रिटर्न प्राप्त कर सकते हैं।

    नीचे दिए गए चित्र से आपको म्युचुअल फंड का बिजनेस मोडेल समझ आ जाएगा-

    म्युचुअल फंड क्या है?

    Photo credit: corporatefinanceinstitute.com


    म्यूचुअल फंड के क्या-क्या फायदे हैं:-

    म्यूचुअल फंड में निवेश करने के लिए आपको इस क्षेत्र में एक्सपर्ट होने की आवश्यकता भी नहीं होती एक सामान्यव्यक्ति  जो बेसिक नॉलेज रखता है वह भी आसानी से निवेश कर सकता है। म्यूचुअल फंड में रिस्क अभी बहुत कम होता है और अन्य प्रचलित माध्यमों जैसे एफडी फिक्स्ड डिपॉजिट गवर्नमेंट बॉन्ड या फिर राष्ट्रीय पेंशन स्कीम की तुलना में अधिक रिटर्न प्राप्त होता है यही कारण है की बहुत से लोग सुरक्षित रूप से एक निश्चित आय प्राप्त करने के लिए म्यूचुअल फंड की ओर रुख करते हैं।

    म्यूचुअल फंड काम कैसे करता है-

    साधारण शब्दों में कहें तो म्यूच्यूअल फंड एक संस्था की तरह काम करता है जो बहुत सारे ग्राहकों से पैसा इकट्ठा करकेउस समुचित राशि को किसी ऐसी जगह पर निवेश कर देता है जहां रिटर्न की संभावना अधिक होती है जैसे कि मार्केट(शेयर या स्टॉक मार्के) अथवा डेट मार्केट (जैसे कि सरकारी बॉन्ड याद सिक्योरिटीज) इस निवेश से म्यूच्यूअलफंड संस्था को जो भी मुनाफा होता है वह उस मुनाफे को अपने निवेशकों के बीच बांट देता है अपनी इस सेवा के बदलेम्यूच्यूअल फंड कुल मुनाफे में से कुछ हिस्सा अपने पास कमीशन के रूप में रख लेता है। यानी कि यह कमीशन हीउसकी आय का मुख्य स्रोत होता है इसके अलावा म्यूचल फंड को ब्याज तथा डिविडेंड के रूप में भी आय प्राप्त होती है। वर्तमान में म्यूचुअल फंड बेचने वाली कई कंपनियां भारत में कार्य कर रहे हैं यह सभी कंपनियां सेबी के अंतर्गत कार्य करते हैं।

    पहले ही म्यूचल फंड  संस्थाएं कहीं से भी पैसा उठा कर कहीं भी इन्वेस्ट कर देती थी जिससे इन्हें गुलेकरने में सेबी को परेशानी होती थी इसी समस्या से बचने के लिए सेबी ने म्यूच्यूअल फंड के पांच प्रकार तय कर दिए हैं अब म्यूचल फंड पांच कैटेगरी के अंतर्गत कार्य करते हैं पहला इक्विटी म्युचुअल फंड इस फंड में जमा की गई राशि को सिर्फ इक्विटी में निवेश किया जा सकता है जैसे की तैयारियां स्टॉक मार्केट दूसरा डेट म्युचुअल फंड इस कैटेगरी के अंतर्गत आने वाले म्यूचल फंड अपनी राशि को सरकारी बांड अथवा सिक्योरिटीज में निवेश कर सकते हैं 

    तीसरा हाइब्रिड म्युचुअल फंड जैसा कि नाम से ही पता चलता है कि इस कैटेगरी में आने वाली म्यूच्यूअल फंड्स अपनी पूंजी को ऊपर की दोनों कैटेगरी में एक साथ निवेश कर सकते हैं चौथा है सॉल्यूशन ओरिएंटेड म्युचुअल फंड जैसा कि नाम से ही स्पष्ट है की यह फंड पोलूशन के रूप में कार्य करता है यदि आप अपने बच्चे को पढ़ने के लिए विदेश भेजना चाहते हैं तो इसके लिए आप अभी से तैयारी करते हुए इस तरह के  म्यूच्यूअल फंड  में निवेश कर सकते हैं। 

    इन्हें भी पढ़ें:-

    Post a Comment

    Please comment

    Previous Post Next Post